देश को बांट दो लोगों को फायदा – राहुल गांधी

देश को बांट दो लोगों को फायदा – राहुल गांधी

कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने कहा कि बीजेपी के नेता देश को बांटते हैं और जानबूझकर देश में डर पैदा करते हैं. 4 सितंबर को कांग्रेस ने महंगाई के मुद्दे पर केंद्र सरकार के खिलाफ दिल्ली के रामलीला मैदान में ‘हल्ला बोल’ रैली का आयोजन किया. इसी रैली में राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री मोदी, बीजेपी और आरएसएस पर जमकर निशाना साधा. राहुल ने कहा कि जब से बीजेपी की सरकार आई है देश में नफरत और क्रोध बढ़ता जा रहा है. उन्होंने कहा कि इस डर और नफरत का फायदा हिंदुस्तान के दो उद्योगपति उठा रहे हैं. राहुल गांधी का इशारा देश के सबसे अमीर व्यक्ति गौतम अडानी और मुकेश अंबानी की ओर था.

राहुल ने कहा कि आप बाकी उद्योगपतियों से भी पूछ सकते हैं वो भी आपको बताएंगे कि पिछले आठ सालों में उनका कोई फायदा नहीं हुआ. कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष ने कहा कि चाहे एयरपोर्ट हो, पोर्ट हों, सड़कें हों, सेलफोन, तेल सबकुछ इन्हीं दो व्यक्तियों के हाथ में जा रहा है. इस हल्ला बोल रैली में राहुल गांधी के अलावा मल्लिकार्जुन खड़गे, अजय माकन, कमलनाथ और कांग्रेस शासित राज्यों के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और भूपेश बघेल भी शामिल हुए.

राहुल गांधी ने कहा, देश को रोजगार ये दो उद्योगपति नहीं देते हैं. देश को रोजगार स्मॉल और मीडियम बिजनेस वाले देते हैं. देश को रोजगार किसान देते हैं. और इन लोगों की रीढ़ की हड्डी नरेंद्र मोदी जी ने तोड़ दी है. बेरोजगारी आने वाले समय में और भी बढ़ेगी. एक तरफ बेरोजगारी तो दूसरी तरफ महंगाई की चोट लग रही है.”

उन्होंने बढ़ती महंगाई को लेकर कुछ आंकड़े गिनाए. उन्होंने 2014 (जब मोदी सरकार केंद्र में आई) और अभी की कीमतों की तुलना की. राहुल ने कहा कि 2014 में LPG सिलेंडर 410 रुपये का था जो आज 1050 रुपये का है. पेट्रोल 70 रुपये से 100 रुपये लीटर पर है. डीजल 55 रुपये से 90 रुपये लीटर पर पहुंच गया. सरसों का तेल जो 90 रुपये लीटर था वो आज 200 रुपये प्रति लीटर हो गया. दूध 35 रुपये से 60 रुपये लीटर हो गया. आटा 22 रुपये प्रति किलो से 40 रुपये हो गया.

राहुल गांधी ने अपने और कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी के खिलाफ ED की कार्रवाई को लेकर केंद्र सरकार को घेरा. उन्होंने रैली में कहा, जो भी नरेंद्र मोदी के खिलाफ काम करना चाहता है, चाहे कोई भी हो, उसके पीछे ED, CBI और इनकम टैक्स को लगा दिया जाता है. मुझे 55 घंटे ED ने बैठाकर रखा, लेकिन नरेंद्र मोदी को कहना चाहता हूं कि मैं आपकी ED से नहीं डरता.”

राहुल ने कहा कि जो हिंदुस्तान के संस्थान हैं चाहे मीडिया हो, ज्यूडिशियरी या चुनाव आयोग हो उन सब पर दबाव है, उन सब पर सरकार आक्रमण कर रही है. उन्होंने कहा कि इसलिए उनके लिए ‘भारत जोड़ो’ यात्रा महत्वपूर्ण है, हमें जनता के बीच जाना होगा.

राहुल गांधी ने रैली में एक बार फिर मोदी सरकार द्वारा साल 2016 में किए गए नोटबंदी पर सवाल उठाया. उन्होंने कहा, नरेंद्र मोदी ने नोटबंदी की, क्या नोटबंदी से गरीबों का फायदा हुआ? गरीबों की जेब से पैसा निकाला, गरीबों को कहा कि ये काले धन के खिलाफ लड़ाई है. फिर कुछ ही महीनों बाद आपने देखा कि आपके जेब से जो लाखों करोड़ रुपये निकाले गए, सरकार ने देश के बड़े उद्योगपतियों का कर्ज माफ किया. किसान का कर्जा माफ नहीं करेंगे.”

Manish Manish

Leave a Reply

Your email address will not be published.